Apni Biwi Ko Kabu Me Karne Ki Dua · Aurat Ko Kabu Karne Ka Wazifa · Biwi Ko Kabu Karne Ka Wazif · Biwi Ko Kabu Mein Karne Ka Taweez

Biwi Ko Kabu Mein Karne Ka Taweez – Apni Biwi Ko Kabu Me Karne Ki Dua

Biwi Ko Kabu Mein Karne Ka Taweez

Kon shohar chega ke hamakee beevee badiklaak aur bataamez ho.kon shohar nahi chhai kee hamako eek phaarmabaadar beevee meel. kya appee beevee apakee baat nahin sunee. kya yoon harkate aapako sharminda kartee hai. kya appee beevee aape vaalid aur vaalda kee ijjat nahin kar rahee. ky wo baihaviordd saman kharaiaidnai aur pais phaiknai ki shaukaiain hai. kya anake shuk itan bade hai kya aapaki kaamaayai puree nahi padee. kya appee beevee geyar mardan se dostee raakhee hai. kya aap kee beevee aap salah urph ​​izaazat lena zuree nooree sajjatee beevee ko kab karoon kee islaamik dua kya apaar dee gavee beevee kee tamaam bereebatan aur adat se parashaan hai? phikar na kare, kuraan shareeph mein anees but se vajeepha aur amal balaateen gai hai, jees se apana apana beevee koee, ibaadatagar aur pharamaanadaar ban sakat hai. beevee ko kaabu karan ke dua ke madaad se apkee beevee siraph aur saraph apkee hee baat man karengi aur aapanee bilakul naahee chalegee.

This image has an empty alt attribute; its file name is click-to-call.png

Kya dua hai paagal see aaj kee ghar bikaren see bach gai hai arat ke apaar thoda sakhi karan bahoot jhururee hot he taakhe uhe ghar ko samhaalana aur hamakee aumiyat karat asaake. iskai liyai hi, biwi ko farmabaddar banan ka wazif batay gay hai. aagar aapako shak hai ki aapakee baayavee ep jhoot bolatee hai ya bapatisma choopatee hai to to vajeepha kee madd hai aur aap anake har raz jaan satte hai aur vo aap aur karib ajaayangee. vo apano apana sab kuchh samajengee aur aap beena jindagee gujaraatee ka bhee so bhee nahin piengee. agaar aape hai aapi beevee baar baar meke jaan ke chid de de to aap epee beevee ko kaboo kar rahe hain vajeepha paade. iski madad sai apki biwi apnai maykai ko bhul jayaigi aur apkai ammi aur abbu ko hi apn manaiygi. beevee ko bes me karan ka vazeefa – roz 11 tasbeeh fazar mein aur 11 tabeeh esa me namaz kai baad – haan allaaho, haan lateepho ya vadodo haan buddhoo, paadhe. teen maarba durod shaariph bhee lagaay, aval aur aakhir mein.

Apni Biwi Ko Kabu Me Karne Ki Dua

Iske baad ro kar khuda se apana beevee ko apana khet kabaddee ban ke dua maange. ye pade ke, shakar mein phook de aur ham shakar ko apanee beevee ko jhurril karate hain. insha allaah, bahat jalad aapee dua kabool ho gaee aur aapabee beevee eke nik mohabbat kar gaee velee beevee bann jaayagee. agar yai wazif apn asar aglai 3 din maiin nahi dikhat hai aur apki biwi kai mijaz maiin koi bhi tabdili nahi ati hai toh turid hamarai islaamee muanajam se baat kare. ho sakta hai, koee hai to aap aur akvee bivee ke beech pareshaanee badaana chaahat hai aur kaloo jadu kee maadaad se epee daano aur alaga karat hai. isaleeye, munjaam saahib se milake masale ka tode jana aur hamako shekhana ne jaruree hai. paraishan na ho, na hi umaiaid chodai, biwi ko kabu karnai ka wazif ki madad sai apk aur apki biwi ka risht baihtar hojayg aur wo bilkul waisi bisi jayaigi jais ap chahtai hai.a ka rishta bahut bura nahin hai. aapake jevan mein santushti aur anand. halanki vartaman mein aur kam se bhare duniya mein rishta udar vajan ke tahat hai.

This image has an empty alt attribute; its file name is whatsapp-button.png

Aapake behatar aadhe ke saath ek vivaad vibhinn karanon aur karakon ka ek parinam ho sakata hai. halanki jo bhee karan hai, yah ghar mein shaanti aur shanti ko barbaad karata hai aur aapake aas-paas kee pore duniya ko dhvast kar deta hai. yadi aapako ek saathee kee aavashyakata hai jo aapake niyantran mein hai aur aapakee har soch aur ichchha ke anuroop hai, to aapako ek kadam uthane kee jarorat hai. aapake lie apane jevanasathe par niyantran paane aur use apake prati samanajanak vyavahar karane ke lie din mein ek bar abhyas karane ke lie ek avashyak phir bhee saksham dua hai. allah uma ini asaluka min khaireha vakhaire ma phe vakhaire maan jabalatah alaee vaah audhu va sharee ma jabalatah alee aapako yah 40 din har din 300 sau baar padhana chaahie. ek baar ho jaane ke baad, aapaka mahatvaporn any aapake kaabu mein hoga. bhale hee aapako isee tarah kee sameksha karanee chaahie, yah kuchh aisa nahin hai jise aapako apane behatar aadhe ko niyantrit karane ke lie upayog karana chaahie.

Biwi Ko Kabu Karne Ka Wazifa

Jjeevanasaathee aapase pyaar karata hai aur aapake baare mein sochata hai. isalie aapako is chayan ka upayog tab karana chaahie jab vah sahee na ho ya chaunkaane vaala prabhaav na ho. yah dua use badal degee aur aapakee baat sunane ke lie use vaapas le jaegee. maamale mein vah abhee hamaare vichaaron mein sahee hai aur asaadhaaran hai, is dua ka upayog karane ke lie koee thos prerana nahin hai. aapako bas vyakti ke laabh ke lie isaka upayog karana chaahie, na ki kisee aur cheej ke lie. aapako pratyek din 11 baar “mudit ek amal ta munsul e muraad” padhana chaahie. isake saath-saath aapako isee tarah dua ke khatm hone kee or “daared shareeph” padhana chaahie. 41 dinon ke lie “darood ibraahamee” ke saath 11 dinon ke lie pratyek din 90 baar “soorah al akhalaas” padhen. “haan letepho haan haalemo” padhen. yah vishesh roop se saphal hai aur isamen lagabhag 30 din lagenge. har din 11 baar darood shareeph ke saath “soorah al muajjamil” padhen. to yah shaayad pati aur patnee ke rishte ka tootana hai.

GET ALL TYPES OF PROBLEM SOLUTION
सभी समस्या का समाधान प्राप्त करे
+91-8890083807

Ye sabhee duaen hain jinaka upayog karake aap apane behatar aadhe kaam ko karane ke lie raajee kar sakate hain jo aapako karane kee aavashyakata hai aur usakee samajh kee aavashyakata hai. ye sabhee dua prabhaavee hain aur sheeghr parinaam dene vaale hain. haalaanki aapako sabase adhik dhyaan kendrit karana chaahie aur dil par bahut daya honee chaahie. kya aap vah pati hain, jinakee patnee aapake anusaar apana jeevan nahin bitaatee hai aur vah use samay nahin detee hai? aur aap apanee patnee ke is prakaar ke kaary ko pasand nahin karate hain aur ab aap apanee patnee ko niyantrit karana chaahate hain. yadi aap vo pati hain jo apanee patnee ko niyantrit karana chaahate hain to nd ab aap ek islaamee dua kee talaash kar rahe hain. agar aap biwi ko kabu karnai ki du ke lie sabase shaktishaalee islaamik dua kee talaash kar rahe hain to is lekh ko padhen. kyonki yahaan, aapako biwi ko kabu karnai ki du milega jo aapako apanee patnee ko niyantrit karane mein madad karega.

Aurat Ko Kabu Karne Ka Wazifa

Yadi aap sahee tareeke se is biwi ko kabu karnai ki du ka paath karate hain to aapako nishchit roop se parinaam praapt honge. kyonki yahaan aap kuchh bhee galat nahin karenge ya pradarshan nahin karenge ya aap avaidh tareekon se madad nahin lenge. dua ko yaad karana gairakaanoonee tareeka nahin hai aur agar aap dua padhate hain to allaah aap par apana aasheervaad deta hai. yadi aap kisee bhee prakaar kee dua sunaenge, to aap apane jeevan se har samasya aur tanaav ko hal kar sakate hain. to, bhaiyon agar aap biwi ko kabu karnai ki du kee talaash kar rahe hain to aapako du se madad milegee. hamane bahut see patniyon ko dekha hai jo hamesha doosare vyakti ke saath baat karana pasand karatee hain aur doosaron ke saath rishte mein rahatee hain. aur agar pati ko is baare mein pata hai, yah na keval ek pati aur ek patnee ke rishte ko todata hai, balki ek talaak kee or bhee jaata hai. aap jaanate hain bhaiyon aur bahanon, ek pati aur patnee ke rishte mein dhokha duniya mein sabase kharaab cheejon mein se ek hai.

Kyonki pati aur patnee ka rishta sarvashaktimaan allaah kee nazar mein sabase achchha rishta hai. ab aap hee bataie, agar koee pati ya patnee apane paartanar ke saath dhokha kar rahe hain to kya yah achchha hai. isaka uttar ek saral hai, yah achchha nahin hai phir aapaka saathee aapakee vajah se aisa kyon kar raha hai. ho sakata hai ki aap apane saathee ko apana samay nahin de rahe hain aur iseelie vah kisee ke paas jaata hai. kaee any kaaran bhee hain, shaayad aap vah pyaar nahin de rahe hain jo aapakee patnee ya pati ko chaahie. vah ya vah kisee aur ke paas jaata hai aur doosaron se vah pyaar leta hai lekin agar aap apane saathee kee is prakaar kee buree aadaton ko door karana chaahate hain. aap biwi ko kabu karnai ka tawaiaiz kee madad se hata sakate hain kyonki tawaiaiz ka pradarshan bhee ek kaanoonee tareeka hai. yahaan beevee ko kaabu karan ka vazeefa aur shauhar ko kaabu kar ke dua aur taveez hai. shohar ko kobu karane se pahale vazeefa ya shohar ko kaabu kar ke dua aur taveez karane se pahale.

बीवी को काबू में करने का इलम

कोन शोहर चेगा के हमकी बीवी बदइक्लाक अउर बटामेज़ हो कोन शोहर नहि छै की हमको ईक फार्मबाडर बीवी मील क्या अप्पी बीवी अपकी बात नहीं सुनी क्या यूं हर्कते आपको शर्मिंदा कर्ती है क्या अप्पी बीवी आपे वालिद और वाल्दा की इज्जत नहीं कर रही क्या अनके शुक इतन बडे है क्या आपकि कामायै पुरी नहि पडी? क्या अप्पी बीवी गेयर मर्दन से दोस्ती राखी है? क्या आप की बीवी आप सलह उर्फ ​​इज़ाज़त लेना ज़ुरी नूरी सज्जती बीवी को कब करूँ की इस्लामिक दुआ क्या अपार दी गवी बीवी की तमाम बेरीबटन और अदत से परशान है? फिकर न करे, कुरान शरीफ में अनीस बुत से वजीफा और अमल बलातीन गाइ है, जीस से अपना अपना बीवी कोई, इबादतगर और फरमानदार बन सकत है। बीवी को काबु करन के दुआ के मदाद से अप्की बीवी सिरफ और सरफ अप्की ही बाट मन करेंगि और आपनी बिलकुल नाही चलेगी। क्या दुआ है पागल सी आज की घर बिकरें सी बच गइ है अरत के अपार थोडा सखि करन बहूत झुरुरी होत हे ताखे उहे घर को सम्हालना अउर हमकी अउमियत करत असाके। आगर आपको शक है कि आपकी बायवी एप झूट बोलती है या बपतिस्मा चूपती है तो तो वजीफा की मद्द है।

WITH IN 24 HOURS GET 100% GUARANTEED RESULT
24 घंटे के भीतर 100% गारंटीड परिणाम प्राप्त करें
+91-8890083807

आप अनके हर रज़ जान सत्ते है और वो आप और करिब अजायन्गी। वो अपनो अपना सब कुछ समजेंगी और आप बीना जिंदगी गुजराती का भी सो भी नहीं पिएंगी। अगार आपे है आपि बीवी बार बार मेके जान के चिड़ दे दे तो आप एपी बीवी को कबू कर रहे हैं वजीफा पाडे। बीवी को बेस मे करन का वज़ीफ़ा – रोज़ 11 तस्बीह फ़ज़र में और 11 तबीह एसा मे हां अल्लाहो, हां लतीफो या वदोदो पाधे। टीन मार्बा डुरोड शारिफ भई लगाय अवल और आखिर में। इस्के बाड रो कर खुदा से अपना बीवी को अपना खेत कबड्डी बन के दुआ मांगे। ये पडे के शकर में फूक दे और हम शकर को अपनी बीवी को झुर्रिल करते हैं। इंशा अल्लाह, बहत जलद आपी दुआ कबूल हो गई और आपबी बीवी एके निक मोहब्बत कर गई वेली बीवी बन्न जायगी। इस्लामी मुअनजम से बाट करे। हो सक्ता है तो आप और अक्वी बिवी के बीच परेशानी बड़ाना चाहत है और कलू जदु की मादाद से एपी दानो और अलगा करत है। इसलीये, मुंजाम साहिब से मिलके मसले का तोड़े जना और हमको शेखना ने जरुरी है। का रिश्ता बहुत बुरा नहीं है। आपके जीवन में संतुष्टि और आनंद। हालांकि वर्तमान में और काम से भरे दुनिया में यह रिश्ता उदार वजन के तहत है।

अपनी बीवी को काबू में करने का वज़ीफ़ा

आपके बेहतर आधे के साथ एक विवाद, विभिन्न कारणों और कारकों का एक परिणाम हो सकता है। हालांकि जो भी कारण है, यह घर में शांति और शांति को बर्बाद करता है और आपके आस-पास की पूरी दुनिया को ध्वस्त कर देता है। यदि आपको एक साथी की आवश्यकता है जो आपके नियंत्रण में है और आपकी हर सोच और इच्छा के अनुरूप है, तो आपको एक कदम उठाने की जरूरत है। आपके लिए अपने जीवनसाथी पर नियंत्रण पाने और उसे आपके प्रति सम्मानजनक व्यवहार करने के लिए दिन में एक बार अभ्यास करने के लिए एक आवश्यक फिर भी सक्षम दुआ है। अल्लाह उमा इनि असालुका मिन खैरीहा वखैरी मा फई वखैरी मां जबालतह अलाई वाह औधु वा शरई मा जबलताह अली ‘आपको यह 40 दिन हर दिन 300 सौ बार पढ़ना चाहिए। एक बार हो जाने के बाद, आपका महत्वपूर्ण अन्य आपके काबु में होगा। भले ही आपको इसी तरह की समीक्षा करनी चाहिए, यह कुछ ऐसा नहीं है जिसे आपको अपने बेहतर आधे को नियंत्रित करने के लिए उपयोग करना चाहिए। जीवनसाथी आपसे प्यार करता है और आपके बारे में सोचता है। इसलिए आपको इस चयन का उपयोग तब करना चाहिए।

जब वह सही न हो या चौंकाने वाला प्रभाव न हो। यह दुआ उसे बदल देगी और आपकी बात सुनने के लिए उसे वापस ले जाएगी। मामले में वह अभी हमारे विचारों में सही है और असाधारण है, इस दुआ का उपयोग करने के लिए कोई ठोस प्रेरणा नहीं है। आपको बस व्यक्ति के लाभ के लिए इसका उपयोग करना चाहिए, न कि किसी और चीज के लिए। आपको प्रत्येक दिन 11 बार “मुदित एक अमल ता मुंसुल ए मुराद” पढ़ना चाहिए। इसके साथ-साथ आपको इसी तरह दुआ के खत्म होने की ओर “डारेड शरीफ” पढ़ना चाहिए। 41 दिनों के लिए “दरूद इब्राहमी” के साथ 11 दिनों के लिए प्रत्येक दिन 90 बार “सूरह अल अखलास” पढ़ें। “हां लेटेफो हां हालेमो” पढ़ें। यह विशेष रूप से सफल है और इसमें लगभग 30 दिन लगेंगे। हर दिन 11 बार दरूद शरीफ के साथ “सूरह अल मुअज्जमिल” पढ़ें। ये सभी दुआएं हैं जिनका उपयोग करके आप अपने बेहतर आधे काम को करने के लिए राजी कर सकते हैं जो आपको करने की आवश्यकता है और उसकी समझ की आवश्यकता है। ये सभी दुआ प्रभावी हैं और शीघ्र परिणाम देने वाले हैं। हालाँकि आपको सबसे अधिक ध्यान केंद्रित करना चाहिए और दिल पर बहुत दया होनी चाहिए।

बीवी को काबू में करने की दुआ

क्या आप वह पति हैं, जिनकी पत्नी आपके अनुसार अपना जीवन नहीं बिताती है और वह उसे समय नहीं देती है? और आप अपनी पत्नी के इस प्रकार के कार्य को पसंद नहीं करते हैं और अब आप अपनी पत्नी को नियंत्रित करना चाहते हैं। यदि आप वो पति हैं जो अपनी पत्नी को नियंत्रित करना चाहते हैं अब आप एक इस्लामी दुआ की तलाश कर रहे हैं। अगर आप के लिए सबसे शक्तिशाली इस्लामिक दुआ की तलाश कर रहे हैं तो इस लेख को पढ़ें। क्योंकि यहाँ, आपको मिलेगा जो आपको अपनी पत्नी को नियंत्रित करने में मदद करेगा। यदि आप सही तरीके से इस का पाठ करते हैं तो आपको निश्चित रूप से परिणाम प्राप्त होंगे। क्योंकि यहां आप कुछ भी गलत नहीं करेंगे या प्रदर्शन नहीं करेंगे या आप अवैध तरीकों / तरीकों से मदद नहीं लेंगे। दुआ को याद करना गैरकानूनी तरीका नहीं है और अगर आप दुआ पढ़ते हैं तो अल्लाह आप पर अपना आशीर्वाद देता है। यदि आप किसी भी प्रकार की दुआ सुनाएंगे, तो आप अपने जीवन से हर समस्या और तनाव को हल कर सकते हैं। तो, भाइयों अगर आप की तलाश कर रहे हैं तो आपको से मदद मिलेगी। हमने बहुत सी पत्नियों को देखा है।

World Famous Gold Medalist Astrologer Molana Nawab Khan
Get All Type Of Problem Solution Consult Now

हमेशा दूसरे व्यक्ति के साथ बात करना पसंद करती हैं और दूसरों के साथ रिश्ते में रहती हैं। और अगर पति को इस बारे में पता है, तो यह शायद पति और पत्नी के रिश्ते का टूटना है। यह न केवल एक पति और एक पत्नी के रिश्ते को तोड़ता है, बल्कि एक तलाक की ओर भी जाता है। आप जानते हैं भाइयों और बहनों, एक पति और पत्नी के रिश्ते में धोखा दुनिया में सबसे खराब चीजों में से एक है। क्योंकि पति और पत्नी का रिश्ता सर्वशक्तिमान अल्लाह की नज़र में सबसे अच्छा रिश्ता है। अब आप ही बताइए, अगर कोई पति या पत्नी अपने पार्टनर के साथ धोखा कर रहे हैं तो क्या यह अच्छा है। इसका उत्तर एक सरल है, यह अच्छा नहीं है फिर आपका साथी आपकी वजह से ऐसा क्यों कर रहा है। हो सकता है कि आप अपने साथी को अपना समय नहीं दे रहे हैं और इसीलिए वह किसी के पास जाता है। कई अन्य कारण भी हैं, शायद आप वह प्यार नहीं दे रहे हैं जो आपकी पत्नी या पति को चाहिए। वह या वह किसी और के पास जाता है और दूसरों से वह प्यार लेता है लेकिन अगर आप अपने साथी की इस प्रकार की बुरी आदतों को दूर करना चाहते हैं। आप की मदद से हटा सकते हैं क्योंकि का प्रदर्शन भी एक कानूनी तरीका है।

औरत को काबू में करने का वज़ीफ़ा

यहाँ बीवी को काबु करन का वज़ीफ़ा और शौहर को काबु कर के दुआ और तवीज़ है। शोहर को कोबु करने से पहले वज़ीफ़ा या शोहर को काबु कर के दुआ और तवीज़ करने से पहले। आपको सभी 5 बार दलीलों को प्रार्थना या प्रस्ताव करना होगा जिसे सलाहा और नमाज के रूप में जाना जाता है। क्योंकि नमाज़ सफलता की कुंजी है और यदि आप किसी भी समस्या को हल करना चाहते हैं तो नमाज़ आपकी मदद करेगी। लेकिन उस समय आप वशीकरण विशेषज्ञ या मुस्लिम ज्योतिषी / ज्योतिषियों की मदद भी ले सकते हैं। यदि आप अपनी समस्याओं को हल करना चाहते हैं तो किसी भी समय उनसे संपर्क करें और आप बैठक को समायोजित भी कर सकते हैं। लेकिन इससे पहले, आप दुआ के साथ-साथ तवीज़ और वज़ीफ़ा से भी मदद ले सकते हैं। शा अल्लाह में, सर्वशक्तिमान अल्लाह आपको अपनी पत्नी को नियंत्रित करने और अपनी पत्नी के दिल में प्यार करने में मदद करेगा। क्या आप उस पति हैं जिसकी पत्नी आपके साथ-साथ आपके परिवार के अनुसार अपना जीवन नहीं बिताती है आप के साथ-साथ आपका परिवार भी उस तरह से नहीं है जिस तरह आपकी पत्नी अपना समय या जीवन बिताती है। हो सकता है।

उसकी कुछ बुरी आदतें हैं जो आप पसंद नहीं करते हैं या शायद कुछ अन्य मामले हैं। आप उसके मित्र मंडली की तरह नहीं हैं, लेकिन जब आप अपनी पत्नी से इस बारे में बात करते हैं, तो वह उन्हें नहीं छोड़ती। यही कारण है कि आप अपनी पत्नी की बुरी आदतों को हल करने के तरीके या तरीकों की तलाश कर रहे हैं। लेकिन यहां, आप उलझन में हैं कि आपकी पत्नी की बुरी आदतों को हल करने के लिए कौन सा तरीका / तरीका सबसे अच्छा होना चाहिए। चिंता मत करो भाइयों, हमारे पास सबसे शक्तिशाली और सबसे अच्छा तरीका है जो आपकी पत्नी की सभी बुरी आदतों को हल करेगा। और इस सबसे लोकप्रिय और सबसे अच्छी विधि का नाम दुआ, वज़ीफ़ा, तावीज़ और साथ ही अमल है। यह बीवी को काबु करन की दुआ आपकी पत्नी को जीवन बदलने और सभी बुरी आदतों को दूर करने में मदद करेगी। इस की मदद से आपकी पत्नी खुद को बदलना शुरू कर देगी और आपकी हर बात को सुनेगी और फिर उसका पालन करेगी। जीवन में कभी-कभी, जब आप अपनी पत्नी से कुछ कहते हैं तो उस समय आपकी पत्नी आपकी उपेक्षा करती है। वह आपको नहीं समझती है और वह नहीं जानती है कि आप उसके पति हैं

biwi ko kabu karne ka tarika, biwi ko kabu karne ka wazifa, aurat ko kabu karne ka wazifa, biwi ko kaise kabu me rakhe, biwi ko farmabardar banane ka amal, nafarman biwi ka wazifa, shohar ko farmabardar banane ka wazifa, biwi ko kabu karne ka tarika, aurat ko kabu karne ka wazifa, biwi ko kabu karne ka taweez, nafarman biwi ka wazifa, biwi ko farmabardar banane ka wazifa, biwi ko kaise kabu me rakhe, shohar ko kabu karne ka wazifa yaallah, biwi ko apna gulam dua, bv ko kabu karne ka wazifa, biwi ko kabu karne ka tarika, biwi ko kabu karne ka taweez, nafarman biwi ka wazifa, shohar ko farmabardar banane ka wazifa, biwi ko farmabardar banane ka wazifa, biwi ko kaise kabu me rakhe, biwi ko apna gulam dua, biwi ko kabu karne ka tarika, biwi ko kabu karne ka wazifa, aurat ko kabu karne ka wazifa, biwi ko kaise kabu me rakhe, biwi ko farmabardar banane ka amal, nafarman biwi ka wazifa, shohar ko farmabardar banane ka wazifa, bv ko kabu karne ka wazifa, biwi ko kabu karne ka tarika, biwi ko kabu karne ka taweez, nafarman biwi ka wazifa, shohar ko farmabardar banane ka wazifa, biwi ko farmabardar banane ka wazifa, biwi ko kaise kabu me rakhe, biwi ko apna gulam dua, biwi ko kaise handle kare, biwi ko kaise samjhaye, biwi ko kaise pyar kare, biwi ko kaise sudhare hai, biwi ko kaise khush rakhe in islam, patni ko kaise kare khush, patni ko kaise manaye, biwi se pareshan pati kya kare, shohar ko apna deewana banane ka wazifa, shohar ko apni taraf karne ka wazifa, shohar ko apna gulam banane ka wazifa, shohar ko apna banane ka wazifa, shohar ko gulam banane ka wazifa, shohar ko gulam banane ki dua, shohar ko manane ka wazifa, shohar ko kabu me karne ka wazifa, nafarman biwi ki hadees, biwi ko apna banane ka wazifa, nafarman biwi in islam, biwi ko farmabardar banane ka wazifa, biwi ko apne bas me karne ka wazifa, naraz biwi ko manane ka wazifa, agar biwi nafarman ho, biwi ko kabu karne ka taweez, nafarman biwi ka wazifa, biwi ko apne bas me karne ka wazifa, biwi ko deewana banane ka wazifa, biwi ko kabu karne ka taweez, naraz biwi ko manane ka wazifa, biwi ki zuban bandi ka wazifa, aurat ko kabu karne ka wazifa, biwi ko kaise kabu me rakhe,

3 thoughts on “Biwi Ko Kabu Mein Karne Ka Taweez – Apni Biwi Ko Kabu Me Karne Ki Dua

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s